July 2, 2022, 12:43 am
Homeधार्मिककही आपके जीवन मे भी तो नही चल रहा काल सर्प दोष...
advertisementspot_img
advertisement

कही आपके जीवन मे भी तो नही चल रहा काल सर्प दोष ? इन लक्षणों से पहचाने ,और आज ही करें यह उपाय

advertisement

कालसर्प योग का नाम सुनते ही ज्यादातर लोगों के मन में डर बैठ जाता है। पता नहीं क्‍या होगा? पर्सनल हो या प्रफेशनल लाइफ हर जगह हम एक्‍स्‍ट्रा कन्‍सर्न होकर काम करने लगते हैं। ज‍िसका पर‍िणाम कई बार हमें नुकसान के रूप में म‍िलता है। अगर आपकी कुंडली में भी कालसर्प योग है तो परेशान होने की बजाए आप मन को शांत रखें और क‍िसी व‍िशेषज्ञ की राय लेकर आप इस योग से राहत भी पा सकते हैं। अब सवाल यह है क‍ि आप खुद कैसे जानेंगे क‍ि आपके साथ होने वाली प्रॉब्‍लम्‍स् कालसर्प योग के चलते हैं। तो आइए यहां हम आपको कुछ संकेतों के बारे में बताते हैं साथ ही कुछ आसान से उपाय भी….

अगर अचानक होने लगे आपके साथ ऐसा

ज्‍योत‍िष शास्‍त्र के अनुसार, अगर क‍िसी की कुंडली में कालसर्प दोष होता है तो उसे बुरे सपने दिखाई देते हैं। इसके अलावा बिना वजह के ही वह परेशान रहता है। अक्‍सर सपने में उसे सांप दिखाई देते हैं। इसके अलावा वह अधिकतर सपने में किसी ने किसी की मृत्‍यु को भी देखता है। ये भी होता है कि तमाम मेहनत करने के बाद भी सफलता नहीं मिलती। कई बार तो यूं लगता है कि सफल होने वाले हैं तभी व्‍यक्ति को विफलता का सामना करना पड़ता है।

बढ़ने लगते हैं व‍िरोधी और होती है यह भी प्रॉब्‍लम

ज्‍योत‍िष शास्‍त्र के अनुसार, अगर क‍िसी की कुंडली में कालसर्प दोष होता है तो उसके विरोधियों की संख्‍या में भी इजाफा होने लगता है। कई बार तो दोस्‍त भी दुश्‍मन बन जाते हैं। इसके अलावा जातकों को किसी असाध्‍य रोग का सामना करना पड़ सकता है। जिसका हर संभव इलाज करने के बाद भी कोई फायदा नहीं होता। कहते हैं कि यदि ये सारे लक्षण दिखाई दें तो मान लेना चाहिए कि कुंडली में कालसर्प योग है।

ज्‍योत‍िषशास्‍त्र में इन्‍हें मानते हैं कारगर उपाय

ज्‍योत‍िष शास्‍त्र के अनुसार, अगर क‍िसी की कुंडली में कालसर्प दोष हो तो उसे प्रतिदिन नियमित रूप से श्रीहरि की उपासना करनी चाहिए। कहते हैं कि ऐसा करने से कालसर्प दोष दूर होता है। इसके अलावा गोमेद या फिर चांदी की धातु से बनी नाग की आकृति वाली अंगूठी पहननी चाहिए। यह भी कालसर्प दोष को दूर करता है। यह भी कहा जाता है कि शनिवार को यदि बहते हुए जल में थोड़े से कोयले को प्रवाहित कर दिया जाए तो भी कालसर्प से होने वाली परेशानियां कम हो जाती हैं। विद्वान कहते हैं कि यदि जटा वाला नारियल और मसूर की दाल को बहते हुए पानी में प्रवाहि‍त किया जाए तो भी कालसर्प दोष दूर होता है।

इसे केवल द‍िन व‍िशेष पर ही कर सकते हैं

ज्‍योत‍िष शास्‍त्र के अनुसार, अगर क‍िसी की कुंडली में कालसर्प दोष होता है तो उसे दूर करने के लिए ताजी मूली का भी दान कर सकते हैं। इसके अलावा घर और दुकान में मोर पंख लगाना चाहिए। पंडितों के मुताबिक यदि राहु-केतु का जाप और अनुष्‍ठान करवाया जाए तो भी कालसर्प से होने वाली समस्‍याओं से राहत मिलती है। साथ ही नागपंचमी का व्रत और नाग प्रतिमा की अंगूठी को भी धारण करना चाहिए। साथ ही इलाहाबाद संगम या फिर नासिक के पास त्रयंबकेश्‍वर में पूजा-अनुष्‍ठान करवाया जाए तो भी कालसर्प का दोष दूर हो जाता है।

advertisement
advertisement
advertisement
RELATED ARTICLES

Most Popular

Recent Comments

advertisement
advertisement
advertisement

Most Popular

Recent Comments

advertisement
%d bloggers like this: