September 29, 2022, 5:29 pm
Homeछत्तीसगढ़सर्वआदिवासी समाज छत्तीसगढ़ की प्रदेश कार्यकारिणी की बैठक में हुंकार रैली एवं...
advertisementspot_img
advertisement

सर्वआदिवासी समाज छत्तीसगढ़ की प्रदेश कार्यकारिणी की बैठक में हुंकार रैली एवं सभा का प्रस्ताव पारित

advertisement

रायपुर-29 दिसंबर 2021 को सर्व आदिवासी समाज छत्तीसगढ़ की प्रदेश कार्यकारिणी की बैठक
नगारची भवन भैरव नगर रायपुर में संपन्न हुआ! जिसमे सर्वसम्मति से प्रांताध्यक्ष सोहन पोटाई की जी के आहवान पर छत्तीसगढ़ प्रदेश में अपने 9 सूत्रीय संवैधानिक मांगों के लिए दिनांक 19 जुलाई 2021 से सितंबर 2021 तक ब्लॉक स्तरीय धरना प्रदर्शन, चक्काजाम, एवं महाबंद किया गया। शासन प्रशासन के द्वारा अभी तक कोई भी सार्थक कदम नहीं उठाया गया, ना ही कोई आश्वासन मिला है। 9 सूत्रीय मांग के साथ पेसा कानून का नियम, अनुसूचित क्षेत्र में नगर पंचायत से ग्राम पंचायत बनाया जाने, मात्रात्मक त्रुटि को सुधार, सहायक शिक्षक के वेतन विसगंती मांगों के समर्थन, आदिवासी समाज के उच्च अधिकारियों आईएएस, आईपीएस, आई एफ एस. में बहुतायात लोगों को लूप लाइन में रखा गया है का उचित जगह पदस्थापना इन विषयों को लेकर उपस्थित समाज प्रमुख एवं जिलाध्यक्षो ने 19 फरवरी 2022 को प्रदेश के राजधानी रायपुर में हुंकार रैली आम सभा का प्रस्ताव पारित किया।

10 दिसंबर 2021 को वीर मेला आयोजन स्थल राजा राव पठार में मुख्यमंत्री भूपेश बघेल जी के द्वारा छत्तीसगढ़ प्रदेश के राज्यपाल के लिए असम्मानजनक शब्दों का प्रयोग किया गया, जिसके लिए सर्व आदिवासी समाज के उपस्थित लोगों ने निंदा प्रस्ताव लाया, आदिवासी महापंचायत 9 दिसंबर 2021 के प्रस्ताव अनुरूप समस्त विषयो पर रणनीति एवं प्रदेश के धरोहर बूढ़ा तालाब का अस्तित्व एवं आस्था के लिए प्रदेश व्यापी बूढा(पुरखा) यात्रा का प्रस्ताव पारित किया गया। प्रदेश कार्यकारिणी की बैठक में जिलाध्यक्ष और समाज प्रमुखों सहित संरक्षक अरविंद नेताम नंदकुमार साय ,प्रांताध्यक्ष सोहन पोटाई, कार्यकारणी अध्य्क्ष बी. एस. रावटे. महासचिव आर.एन.साय, सचिव विनोद नागवंशी, महिला प्रभाग अध्यक्ष सविता साय ,युवा प्रभाग अध्यक्ष सुभाष परते, रूपेंद्र नागरची,फणीन्द्र भोई,महेश रावटे, मया राम नागवंशी, रामप्रसाद मरकाम,मानक दर्पट्टी, रमेश चन्द्र श्याम,उमेंदी गंगराले,बंगाराम सोरी, बी. एस. नागेश,अमृत मरावी,मोतीलाल पैकरा,बृजमोहन सिंह,नरेंद्र ध्रुव, कंदर्प सिदार,संत राम ध्रुव, दीनू नेताम सहित सैकड़ों की संख्या में समाज प्रमुख उपस्थित थे।

advertisement
advertisement
advertisement
RELATED ARTICLES

Most Popular

Recent Comments

advertisement
advertisement
advertisement

Most Popular

Recent Comments

advertisement
%d bloggers like this: