June 28, 2022, 3:09 am
Homeछत्तीसगढ़CG; कान के स्वास्थ्य एवं उसकी देखभाल के संबंध में चलेंगे जांच...
advertisementspot_img
advertisement

CG; कान के स्वास्थ्य एवं उसकी देखभाल के संबंध में चलेंगे जांच हेतु विशेष कार्यक्रम

advertisement

सतीश नेताम/बलौदाबाजार-राज्य शासन के निर्देश पर जिले में 3 मार्च को विश्व कर्ण देखभाल दिवस के रूप में मनाया गया। साथ ही अगले एक हफ्ते 10 मार्च तक राष्ट्रीय कर्ण जागरूकता अभियान की शुरुआत की गई है। इस संबंध में मुख्य चिकित्सा एवं स्वास्थ्य अधिकारी डॉ खेमराज सोनवानी ने बताया कि इस जागरूकता अभियान के अंतर्गत बहरेपन की रोकथाम हेतु लोगों में विभिन्न प्रकार के सकारात्मक जागरूकता भरे संदेशों का प्रचार -प्रसार किया जाएगा साथ ही जिला अस्पताल सहित सभी स्वास्थ्य केंद्रों में कान की विभिन्न प्रकार की जांच भी की जाएगी। इस संबंध में बुजुर्ग तथा पुलिस के ट्रैफिक के जवानों पर विशेष ध्यान दिया जा रहा है क्योंकि यह वर्ग जोखिम समूह में आता है। इस संबंध में राष्ट्रीय बधिरता बचाव और रोकथाम कार्यक्रम की जिला नोडल अधिकारी एवं जिला चिकित्सालय की नाक कान गला रोग विशेषज्ञ डॉक्टर नेहा गंगेश्री ने बताया कि वर्तमान में बढ़ते ध्वनि प्रदूषण के कारण लोगों के सुनने की क्षमता पर बुरा असर पड़ रहा है ।

बुजुर्ग व्यक्तियों में इसके कारण अवसाद और चिड़चिड़ापन की स्थिति उत्पन्न हो जाती है। हमारे जिले में पिछले 1 वर्ष में 4263 ऐसे मरीजों का उपचार किया गया जिन्हें कान में किसी न किसी प्रकार की समस्या थी । कान में सुनने की क्षमता में कमी के अतिरिक्त,उसमें मवाद आना,दर्द होना इत्यादि समस्याएं भी उत्पन्न होती हैं। डॉ नेहा ने बताया कि कान में किसी प्रकार की कोई नुकीली वस्तु नहीं डालनी चाहिए,गंदे पानी में नहाने से बचना चाहिए, ज्यादा तेज़ आवाज में संगीत नहीं सुनना चाहिए कान में कोई तरल पदार्थ नहीं डालना चाहिए और किसी प्रकार की कोई समस्या हो तो तुरंत चिकित्सक से संपर्क करना चाहिए।

सिविल सर्जन डॉ राजेश कुमार अवस्थी ने बताया कि जिला अस्पताल में कान की विविध प्रकार की समस्याओं हेतु उपचार उपलब्ध हैं । यहां कान के पिना,कान के परदे में छेद,अंदर की हड्डियों में कैल्शियम के जमाव,किसी प्रकार के फंगस को हटाना जैसी सर्जरी की जाती है । इसके अतिरिक्त यहां नवजात शिशु के बहरेपन की जांच हेतु ऑटो एकॉस्टिक एमिशन मशीन की भी सुविधा उपलब्ध है।साथ ही ऑडियोमेट्रिक कार्य एवं स्पीच थेरेपी भी यहां की जाती है।जिला अस्पताल में इस दिवस पर 32 लोगों की स्क्रीनिंग की गई।

advertisement
advertisement
advertisement
RELATED ARTICLES

Most Popular

Recent Comments

advertisement
advertisement
advertisement

Most Popular

Recent Comments

advertisement
%d bloggers like this: