June 28, 2022, 1:43 am
Homeछत्तीसगढ़CG; आत्मनिर्भरता की पहचान बने गौठान मेला,महिला स्व सहायता समूह ने बेचे...
advertisementspot_img
advertisement

CG; आत्मनिर्भरता की पहचान बने गौठान मेला,महिला स्व सहायता समूह ने बेचे 15 हजार रूपये से अधिक के उत्पाद

advertisement

सतीश नेताम/बलौदाबाजार-राज्य सरकार की महत्वाकांक्षी योजना सुराजी गांव एवं गोधन न्याय योजना के तहत जिला प्रशासन द्वारा शुरू की गई गौठान मेला आत्मनिर्भरता की पहचान बन गई है। जो ग्रामीण अर्थव्यवस्था के सशक्तिकरण में अपनी महत्वपूर्ण योगदान अदा कर रही है। आज भाटापारा विकासखण्ड के अंतर्गत ग्राम गोढ़ी एस एवं सिमगा विकासखण्ड के अंतर्गत ग्राम कोलिहा में गौठान मेले का आयोजन किया गया। मेले का शुभांरभ गौ माता को गुड़ एवं हरा चारा खिलाकर जनप्रतिनिधियों के द्वारा किया गया। मेले में आज महिला स्व सहायता समूहों ने 15 हजार रूपये से अधिक के उत्पाद बेचे है। साथ ही मेले में करीब 125 क्विंटल जैविक खाद जिसका बाजार मूल्य एक लाख 25 हजार रूपये का विक्रय किया गया। इस मेले में उत्कृष्ट कार्य करने वाले चरवाहा, महिला स्व सहायता समूह के सदस्य, किसान, सचिव, रोजगार सहायक, पशुपालन एवं कृषि विभाग के कर्मचारियों को पुरस्कृत किया गया। ग्राम गोढ़ी एस में कलेक्टर डोमन सिंह ने पहुंचकर गौठान मेले का अवलोकन किया। इस दौरान उन्होंने गौठान मेले के उद्देश्यों के बारे में विस्तृत जानकारी उपस्थित ग्रामीणों को दिए। महिला स्व सहायता समूह के उत्पादों को देखकर उनकी खुले मन से प्रशंसा की।

अवलोकन के दौरान महिला स्व सहायता समूहों के द्वारा बनाए गए रेशम की चूड़ियां लोगों को खूब पसंद आई। जिला पंचायत सीईओ डॉ.फरिहा आलम सिद्धीकी एवं एसडीएम भाटापारा लवीना पाण्डेय ने उनसे चूड़ी खरीदी। गौठान मेले में पशुओं का टीकाकरण, गौठानों समिति के सदस्यों को प्रशिक्षण, आम जनता को कृषि संबंधित जानकारी से अवगत कराया गया। इस मौके पर जिला पंचायत उपाध्यक्ष सरिता ठाकुर, जनपद अध्यक्ष भाटापारा संगीता मनोहर साहू एवं जनपद पंचायत सदस्य मधु वर्मा, सरपंच गौरी सुरेन्द्र वैष्णव उपस्थित रहे। साथ ही बड़ी संख्या में अन्य जनप्रतिनिधिगण, गौठान समिति के सदस्य, कृषक, चरवाहा एवं आम जन उपस्थित थे। गौठान मेले के बारे में जानकारी देते हुए जिला पंचायत सीईओ ने बताया कि आज गोढ़ी एस में लगभग 15 हजार 545 रूपये के उत्पाद बेचे गए। जिसमें महिला स्व सहायता समूह द्वारा बनाए गए साबुन, फिनायल, मसाले, अचार, पापड़, चिप्स, निरमा, मिक्चर एवं अन्य उत्पाद शामिल है।

इसके साथ ही वर्मी खाद का भी स्टाल लगाकर विक्रय किया गया। जिसे बड़ी संख्या में आए हुए अतिथि, आम जनता एवं कृषकों के द्वारा खरीदारी की गई। जिसमें गोढ़ी एस में 15 क्विंटल 70 किलो जैविक खाद किसानों द्वारा एवं ग्राम कोलिहा में उद्यान विभाग द्वारा 110 क्विंटल जैविक खाद खरीदी की गई। ग्राम गोढ़ी एस में निपनिया, कडार, गुडेलिया, टोनाटार, करही बाजार, बिटकुली, सिंगारपुर के गौठान समिति के सदस्य एवं गौठानों में कार्य करने वाले महिला स्व सहायता समूह के सदस्य सम्मिलित हुए। गौरतलब है कि जिले में 8 फरवरी से लेकर 28 फरवरी तक चिन्हाकित 31 गौठानो में मेला का आयोजन किया जा रहा है। इस मौके पर उप संचालक कृषि सत राम पैकरा सहित पंचायत, जनपद पंचायत सीईओ सी.पी.पात्रे, पंकज देव, सहित कृषि, मत्स्य, उद्यानिकी, पशुधन विभाग के अधिकारी एवं कर्मचारी मौजूद रहे।

advertisement
advertisement
advertisement
RELATED ARTICLES

Most Popular

Recent Comments

advertisement
advertisement
advertisement

Most Popular

Recent Comments

advertisement
%d bloggers like this: