December 2, 2022, 5:58 am
Homeछत्तीसगढ़फर्जी जाति प्रमाणपत्र का मामला: कटघोरा के तत्कालीन एसडीएम गजेंद्र सिंह पर...
advertisementspot_img
advertisement

फर्जी जाति प्रमाणपत्र का मामला: कटघोरा के तत्कालीन एसडीएम गजेंद्र सिंह पर लटकी कार्यवाही की तलवार

advertisement

कोरबा भूपेश मांझी-कटघोरा अनुविभाग में फर्जी जाती प्रमाण पत्र के मामले को केंद्र सरकार ने संज्ञान में लिया है। कार्मिक, लोक शिकायत पेंशन मंत्रालय ने मुख्य सचिव छत्तीसगढ़ को कार्यवाही के सम्बंध में जानकारी मांगा है।

बता दें कि अन्य प्रांतों से आकर कोरबा में फर्जी प्रमाण पत्र के सहारे नौकरी, मुआवजा और आदिवासियों की जमीन खरीद बिक्री कर सरकार को चूना लगाने वालों पर छत्तीसगढ़ीहा क्रांति सेना ने आरोप लगाते हुए कार्यवाही की मांग की थी। जिला स्तर पर गठित जाति प्रमाणपत्र छानबीन समिति ने जाति को फर्जी होने की पुष्टि की थीं। आदिवासियों के नाम पर बनी फर्जी प्रमाण पत्र का तो खुलासा हुआ, पर प्रमाण पत्र बनाने वाले तत्कालीन एसडीएम गजेंद्र सिंह ठाकुर पर कार्यवाही नही हुई। इस पर छत्तीसगढ़िया क्रांति सेना के प्रदेश महामंत्री दिलीप मिरी ने मुख्य सचिव छत्तीसगढ़ शासन को शिकायत कर कार्यवाही की मांग थी। शिकायत पर के आधार पर छत्तीसगढ़ शासन सामान्य प्रशसान विभाग के अवर सचिव क्लेमेंटिना लकड़ा ने राजनांदगांव कलेक्टर को पत्र लिखकर वर्तमान में राजनांदगांव जिला सीईओ के पद पर पदस्थ गजेंद्र सिंह ठाकुर से 15 दिवस के भीतर स्पष्टिकरण मांगा है। अब फर्जी जाति प्रमाण पत्र के मामले में के केंद्र सरकार ने भी संज्ञान लिया है। उन्होंने शिकायत कर्ता की शिकायत पर की गई कार्यवाही का जवाब मांगा है।

advertisement
advertisement
advertisement
RELATED ARTICLES

Most Popular

Recent Comments

advertisement
advertisement
advertisement

Most Popular

Recent Comments

advertisement
%d bloggers like this: