July 2, 2022, 8:03 am
Homeछत्तीसगढ़बड़ी खबर : भारी मात्रा में विस्फोटक बरामद, 300 से ज्यादा धमाके...
advertisementspot_img
advertisement

बड़ी खबर : भारी मात्रा में विस्फोटक बरामद, 300 से ज्यादा धमाके करने की क्षमता

advertisement

छत्तीसगढ़ के बस्तर में नक्सलियों को गोला बारूद सप्लाई करने वाले एक गिरोह को तेलंगाना राज्य के करीमनगर पुलिस ने गिरफ्तार किया है।

आरोपियों के पास से 300 से ज्यादा डेटोनेटर जब्त किए गए हैं। जानकारी के मुताबिक इस डेटोनेटर से 300 से ज्यादा बड़े धमाके हो सकते हैं।

नक्सलियों के TCOC के दौरान बस्तर में किसी बड़ी वारदात को अंजाम देने के लिए इस डेटोनेटर को बस्तर इलाके में सक्रिय नक्सलियों के द्वारा मंगाया जा रहा था। लेकिन करीमनगर पुलिस ने छत्तीसगढ़ और हैदराबाद नेशनल हाईवे में स्थित टोल प्लाजा में चेकिंग के दौरान 2 चार पहिया वाहनों से 300 से ज्यादा डेटोनेटर जब्त किया है साथ ही 5 आरोपियों को भी गिरफ्तार किया है, इनमें से एक आरोपी छत्तीसगढ़ के बीजापुर जिले का रहने वाला है।

करीमनगर पुलिस कमिश्नर सत्यनारायण ने जानकारी देते हुए बताया कि पुलिस की एक टीम करीमनगर हैदराबाद नेशनल हाइवे पर छत्तीसगढ़ में नक्सलियों के लिए गोला बारूद ले जाते समय चैकिंग के दौरान स्कॉर्पियो और स्विफ्ट वाहन से 14 पेटी डेटोनेटर जब्त किया। एक पेटी में 30 नग डेटोनेटर रहते हैं, ऐसे में 14 पेटी में करीब 420 नग थे। इन डेटोनेटर के जरिए कम से कम 300 से ज्यादा धमाके किए जा सकते हैं, इधर पुलिस ने जो डेटोनेटर पकड़ा है वह इलेक्ट्रॉनिक डेटोनेटर है।

दरअसल, डेटोनेटर वह उपकरण है जो बम को सक्रिय करता है और इसे बम का ट्रिगर भी कहा जा सकता है। इधर नक्सलियों के लिए गोला बारूद सप्लाई कर रहे 5 आरोपियों को पुलिस ने गिरफ्तार किया है। आरोपियों से पूछताछ के दौरान उन्होंने बताया कि चिन्ना राव का एक कोरम विजय नाम का दोस्त है और विजय की दोस्ती नक्सली नेता कट्टा रामचंद्र रेड्डी और सेंट्रल कमेटी मेंबर विकल्प सहित कई बड़े नक्सलियों से है, ऐसे में विजय नक्सलियों को गोला बारूद की आपूर्ति का काम कर रहा था।

आरोपी चिन्नाराव ने पुलिस को बताया कि उन्हें डेटोनेटर सप्लाई के बदले 3 लाख रुपये मिले थे, फिलहाल इस मामले का मुख्य आरोपी के. विजय और अन्य आरोपी फरार हैं, जिनकी तलाश छत्तीसगढ़ और तेलंगाना पुलिस कर रही है। बताया जा रहा है कि इतनी बड़ी मात्रा में मिले डेटोनेटर से नक्सली पूरे बस्तर को हिला देने जैसी बड़ी वारदात को अंजाम दे सकते थे। फिलहाल, इतनी बड़ी मात्रा में डेटोनेटर के पकड़ा जाने से एक तरफ जहां तेलंगाना पुलिस को बड़ी सफलता मिली है, वहीं बस्तर पुलिस ने भी राहत की सांस ली है और नक्सली संगठन को इससे काफी बड़ा नुकसान हुआ है।

वहीं इस मामले पर नक्सल जानकार मनीष गुप्ता ने बताया कि इस डेटोनेटर से एक बड़ा धमाका बस्तर में हो सकता था लेकिन पुलिस की बड़ी सफलता है की इस डेटोनेटर के जखीरा को बरामद कर लिया गया।

advertisement
advertisement
advertisement
RELATED ARTICLES

Most Popular

Recent Comments

advertisement
advertisement
advertisement

Most Popular

Recent Comments

advertisement
%d bloggers like this: